....टेस्ला कार हादसे के बाद क्या ऐसा हो जाएगा ड्राइवरलेस कार का सपना!

Posted By:

अमरीका में टेस्ला मॉडल एस कार ड्राइव कर रहे एक ड्राइवर की हार ही मौत की खबर आई थी। हालांकि, उसने कार का सेमी-आॅटोनोमस मोड आॅन कर रखा था तो इसलिए इसे सामान्य घटना नहीं कहा जा सकता। इस घटना के बाद से लोग ड्राइवरलेस कारों को लेकर संशय में हैं।

एक ऐसी तकनीक जिसने जन्म ​ही लिया था कि इससे जुड़ी घटना सामने आ गई! क्या इसके बाद लोगों के लिए यह समझना आसान होगा कि ऐसी कारों से कोई खतरा नहीं है, बशर्ते उन्हें सही से ड्राइव किया जाए। CAR OVERVIEW : जानिए एंट्री लेवल हैचबैक डैटसन रेड-गो के सभी वैरिएंट के बारे में

इस घटना ने सिर्फ टेस्ला को ही नहीं बल्कि गूगल और उबर सरीखी दिग्गज कंपनियों को भी सकते में ला दिया है। ये दोनों कंपनियां पहले से ही लंबे समय से ड्राइवरलेस कारों पर काम कर रही हैं।

अमेरिका के ओहायो में 40 वर्षीय जोशुआ डी. ब्राउन की 7 मई को टेस्ला सेल्फ ड्राइविंग कार से हुई मौत का यह अपनी तरह का पहला मामला है। अमेरिकी सरकार इलेक्ट्रिक सेडान कार में लगे सिस्टम की डिजाइन और परफॉर्मेंस की जांच कर रही है।

वहीं बात अगर इंडस्ट्री एक्स्पर्ट की करें तो उनका मानना है कि कुछ मामलों में पहले से ज्यादा सावधान रहना होगा। खासतौर पर तब, जबकि कार सेमी आॅटोनोमस फीचर्स से लैस हो। अभी इन कारों की ब्रेकिंग को दुरुस्त करने के लिए इसके आॅटोमेटिक ब्रेकिंग सिस्टम पर भी काम करने की ज़रूरत है।

फिलहाल, एक हादसे की वजह से यह कह देना बेईमानी होगी कि ड्राइवरलेस कार एक असफल प्रयोग है। वक्त की जरूरत को देखते हुए ऐसी कारों का होना जरूरी है। आखिरकार, ऐसी कारों की सफलता में ही हमारी भी सफलता शामिल है! ये बात देर-सवेर हमें समझ आ ही जाएगी।

ड्राइवस्‍पार्क के ट्रेंडिंग आर्टिकल यहां पढ़ें - 

Read more on #tesla
English summary
Know about the Future of Driverless cars after Tesla Model S car accident in US.
Story first published: Friday, July 8, 2016, 12:27 [IST]
Please Wait while comments are loading...

Latest Photos