किसी कार रेस में नहीं, खेतों में दौड़ती है यह 'फरारी', आप भी देखिए आखिर क्‍यों है यह खास

Posted By:

फरारी का नाम सुनते ही सभी के जेेहन में 300 किलोमीटर प्रति घंटे की स्‍पीड से फर्राटा भरने वाली स्‍पोर्ट्स कार की तस्‍वीर सामने आ जाती है। लेकिन हम आपको एक ऐसी फरारी के बारे में बता रहे हैं, जो एक्‍सप्रेसवे पर नहीं बल्कि खेतोंं में दौड़ती है। यह फरारी कोई स्‍पोर्ट्स कार नहीं, बल्कि एक मिनी ट्रैक्‍टर है। इसका इस्‍तेमाल F1 रेस नहीं बल्कि खेतों की जुताई के लिए किया जाता है। भारत में फरारी ब्रांड के ट्रैक्‍टर को तीन साल से इम्‍पोर्ट किया जा रहा है।

इटली की कंपनी है फरारी

इटली की कंपनी है फरारी

- यह फरारी कंपनी भी इटली की ही है लेकिन, इसका स्‍पोर्ट्स कार बनाने वाली फरारी से कोई संबंध नहीं है।

- फरारी ने 1954 में ट्रैक्‍टर की मैन्‍युफैक्‍चरिंग शुरू की थी। -1980 के दशक में इटली की सबसे बड़ी एग्री मशीनरी बनाने वाली कंपनी BCS ने इसे खरीद लिया था।

किसी कार रेस में नहीं, खेतों में दौड़ती है यह 'फरारी', आप भी देखिए आखिर क्‍यों है यह खास

-फरारी कंपनी 26 हार्सपॉवर से 98 हॉर्सपॉवर के ट्रैक्‍टर बनाती है, जो इटली ही नहीं बल्कि पूरे युुरोप में खासे लोकप्रिय हैं।

- भारत में जो फरारी ट्रैक्‍टर इम्‍पोर्ट किया जाता है, वह इसका सबसे छोटा मॉडल के-30 है।

भारत का पहला एग्जिक्यूटिव ट्रैक्टर

भारत का पहला एग्जिक्यूटिव ट्रैक्टर

- भारत की दूसरी सबसे बड़ी ट्रैक्‍टर निर्माता कंपनी एस्‍कॉर्ट्स ने 2013 में इसका इम्‍पोर्ट शुरू किया है।

- हाल के कुछ साल में देश में बढ़ रहे मल्‍टी रोल मिनी ट्रैक्टर के चलन को देखते हुए कंपनी फरारी के सबसे छोटे मॉडल के-30 को इम्पोर्ट कर रही है।

- कंपनी का दावा है कि यह भारत का पहला एग्जिक्यूटिव ट्रैक्टर है।

- ट्रैक्टर में गियर शिफ्टिंग से लेकर बैठने तक का स्टायल किसी कार से कम नहीं है।

12 स्पीड गियरबॉक्स के साथ है यह फ़रारी

12 स्पीड गियरबॉक्स के साथ है यह फ़रारी

- फरारी कार में तो अधिकतम 6 स्‍पीड गिरयरबॉक्‍स ही लगा है। लेकिन, इस फरारी में 12 स्‍पीड गियर बॉक्‍स लगा है।

- ऐसा नहीं है कि इतने गियर्स इसकी स्‍पीड को बढाते हैं, बल्कि ये कृषि जरूरतों को ध्‍यान में रखकर लगाए गए हैं।

- फरारी के-30 में 1123 सीसी का 3 सिलेंडर इंजन लगा है। पावर स्‍टीयरिंग और फोर व्‍हील ड्राइव जैसी तमाम विशेषताएं इस ट्रैक्‍टर में मौजूद हैं।

कीमत

कीमत

-फिलहाल, इम्‍पोर्ट होने के कारण इस 26 एचपी के ट्रैक्‍टर की कीमत ज्‍यादा है।

-एस्‍कॉर्ट्स कंपनी ने फेरारी के-30 को 8 लाख रुपए में बेचना शुरू किया है। के-30 को 8 लाख रुपए में बेचना शुरू किया है।

- कंपनी जल्‍द फेरारी के-30 की मैन्‍यूफैक्‍चरिंग भी शुरू करने वाली है।

- मैन्‍युफैक्‍चरिंग भारत में शुरू होने के बाद इसकी कीमत में एक तिहाई से ज्‍यादा कमी होने का अनुमान है।

English summary
The Cromo K30 tractor is the requirement of the hobby-farmer and the farmer specialising in farming in glasshouses, nurseries, micro-row crops and poultry farming.
Story first published: Tuesday, June 21, 2016, 17:56 [IST]
Please Wait while comments are loading...

Latest Photos