रिव्यूः कॉम्पैक्ट एसयूवी मार्केट में टाटा नेक्सन की अनदेखी होगी मुश्किल

Written By:

अभी 2014 में ही जब टाटा नेक्सन के कांसेप्ट को देश की राजधानी के ऑटो एक्सपो में पेश किया गया था तो इसने लोगों का दिल चुरा लिया था और लोगों में तभी से उम्मीद बंध गई कि यह गाड़ी जब भी मार्केट में होगी सबसे अलग होगी।

लेकिन दिक्कत यह हुई कि इसके कांसेप्ट को ही चुरा लिया गया। जिसके बाद कम्पनी ने थोड़े बहुत बदलाव के साथ इसे एक विशिष्ट कार बनाने में कोई सकर नहीं छोड़ी है।

To Follow DriveSpark On Facebook, Click The Like Button
रिव्यूः कॉम्पैक्ट एसयूवी मार्केट में टाटा नेक्सन की अनदेखी होगी मुश्किल

हालांकि कम्पनी को इसका नुकसान यह हुआ् कि इसकी लॉन्चिंग उसके बाद से टलती रही और अब जाकर तय हो सकी है कि यह 2017 के फेस्टिव सीजन में भारत में लॉन्च हो सकती है और आज के दौर में भारतीय कार बाजार में यह सबसे हॉट प्रापर्टी है।

रिव्यूः कॉम्पैक्ट एसयूवी मार्केट में टाटा नेक्सन की अनदेखी होगी मुश्किल

आपको बता दें कि टाटा ने मारुति विटारा ब्रेज़्जा और फोर्ड इकोस्पोर्ट जैसी अपनी सुस्थापित प्रतिस्पर्धियों को मार्केट में हराने के लिए नेक्सन को लाने का प्लान बनाया है तो आइए ड्राइवस्पार्क के फर्स्ट ड्राइव रिव्यू के आधार पर जानते हैं कि क्या यह कम्पनी और लोगों की उम्मीदों पर खरा उतरने का माद्दा रखती है य़ा नहीं?

गाड़ी का डिजाइन

गाड़ी का डिजाइन

आपको बता दें कि एसयूवी की दुनिया में, नेक्सन की डिजाइन एक ताजी हवा के झोके की तरह आया है। नेक्सन के बोल्ड स्टाइलिंग संकेत, नए प्रभावी डिजाइन दर्शन की चौथी पुनरावृत्ति, कूप्स और पारंपरिक एसयूवी के डिजाइन तत्वों का एक शानदार मिश्रण है।

ये मिश्रण टाटा नेक्सन को बॉक्सी वाहनों की दुनिया से बाहर निकलने में मदद करते हैं।

रिव्यूः कॉम्पैक्ट एसयूवी मार्केट में टाटा नेक्सन की अनदेखी होगी मुश्किल

गाड़ी के ऊपरी भाग की बात करें तो हाई सेट हेडलैम्प्स और एलईडी शीर्ष संकेतों पर एक ब्लिस्टर टर्न सिग्नल को होस्ट करती है। हेडलैम्प एक ब्लैक विंडो की तरफ है। ग्रिल के नीचे टाटा सिग्नेचर डिज़ाइन तत्व रन कराता है। क्रोम-आउट अब हेडलाइट्स के नीचे भी फैली हुई है।

रिव्यूः कॉम्पैक्ट एसयूवी मार्केट में टाटा नेक्सन की अनदेखी होगी मुश्किल

साइड से देखा जाए तो नेक्सन एक एसोपीपी रूफलाइन पर खेलता है। फ़्लोटिंग डिजाइन में एक गहरे भूरे रंग का कलर जॉब मिलता है। जो नेक्सन के ब्राइट कलर जॉब के साथ विरोधाभासी प्रतीत होता है। यह स्पोर्टी कूप की तरह डिज़ाइन को आकर्षित करता है।

नेक्सन में फीचर्स व्हील आर्चेस की सुविधा है, जो कि 16 इंच के मशीन-कट दोहरे टोन मिश्र धातु पहियों के लिए वसा 215/60 आर 16 टायर के साथ होस्ट करती है।

रिव्यूः कॉम्पैक्ट एसयूवी मार्केट में टाटा नेक्सन की अनदेखी होगी मुश्किल

नेक्सन के पीछे की बात करें तो यह टाटा नेक्सन के डिजाइन का 'एक्स फक्टर' कहलाता है, और यह देखना कठिन नहीं है कि क्यों पीछे की विंडस्क्रीन तेजी से रैक की जाती है, और सफेद सिरेमिक प्लास्टिक एक लम्बी एक्स के रूप में टाटा बैज की मेजबानी करता है। एक्स भी दो टेल लैंप को जोड़ता है और एलईडी प्रकाश तत्वों को भी सुविधा प्रदान करता है।

आंतरिक विशेषताएं

आंतरिक विशेषताएं

Nexon के आंतरिक गुणवत्ता और डिजाइन दोनों एक बड़ा कदम है। डैशबोर्ड के पास एक भूरे रंग में बेज नीचे की तरफ स्तरित नज़र है। बीच की परत डैश के एक छोर से दूसरे तक चलती है और एक धातु ग्रे के साथ खत्म होती है और इस कलर को दरवाज़े के हैंडल पर भी देखा जा सकता है।

रिव्यूः कॉम्पैक्ट एसयूवी मार्केट में टाटा नेक्सन की अनदेखी होगी मुश्किल

नेक्सन की अगली सीटें लंबी लंबी यात्रा में भी ड्राइवर और यात्रियों को आराम और मजबूती देने की सुविधा देती हैं। ड्राइवर की सीट स्पोर्ट्स ऊंचाई सड़क की कमांडिंग दृश्य प्राप्त करने की अनुमति देता है। नेक्सन की रियर सीटों में तीन लोगों से भी ज्यादा बैठने का स्थान है। हालांकि रिक्त सीट लंबी यात्राएं असुविधाजनक बना सकती है।

रिव्यूः कॉम्पैक्ट एसयूवी मार्केट में टाटा नेक्सन की अनदेखी होगी मुश्किल

नेक्सन में एक 6.5 इंच एचडी टचस्क्रीन इंफोटेनमेंट है, जो उपकरण के ऊपरी भाग और स्टीयरिंग व्हील (ज़ेस्ट से लिया गया) के बगल में डैशबोर्ड के ऊपर सीधे खड़ा होता है। प्रदर्शन का उपयोग करना आसान और संचालित होता है। यह चलते समय ड्राइवरों को विचलित नहीं करता है और पिछली बार पीछे की तरफ पार्किंग कैमरे द्वारा उपयोग किया जाता है।

रिव्यूः कॉम्पैक्ट एसयूवी मार्केट में टाटा नेक्सन की अनदेखी होगी मुश्किल

इंफोटेनमेंट सिस्टम एंड्रॉइड ऑटो की सुविधा देता है जो उपयोगकर्ताओं को कॉल करने, संदेश पढ़ने और निर्देश देने, संगीत को बदलने और Google मानचित्र के माध्यम से बारी-बारी से नेविगेशन का लाभ लेने की अनुमति देता है। टाटा ने वादा किया है कि ऐप्पल कार्प्ले जल्द ही इस प्रणाली में अपना रास्ता बना देगा।

रिव्यूः कॉम्पैक्ट एसयूवी मार्केट में टाटा नेक्सन की अनदेखी होगी मुश्किल

टाटा ने नेक्सन के अंदरूनी हिस्से को 31 अलग-अलग उपयोगिताओं के साथ पैक किया है। टाटा भी एक पहनने योग्य डिवाइस के साथ नेक्सन को प्रदान कर रहा है जिसे दरवाज़े और बूट ढक्कन को अनलॉक करने के लिए इस्तेमाल किया जा सकता है और इसे भी शुरू करने की अनुमति मिल सकती है जिसका अर्थ है कि ड्राइवरों को हमेशा चिंता नहीं होनी चाहिए।

रिव्यूः कॉम्पैक्ट एसयूवी मार्केट में टाटा नेक्सन की अनदेखी होगी मुश्किल

Nexon अंदरूनी गलती के बिना नहीं हैं, डैश पर कुछ बटन के साथ बहुत छोटा है जबकि कुछ में कोई फ़ंक्शन नहीं है। रोटरी ड्राइव मोड चयनकर्ता भी बाकी उपकरण के मुकाबले थोड़ा बड़ा लगता है और यूएसबी और औक्स इनपुट के साथ फ्रंट 12 वोल्ट पोर्ट तक पहुंच गियर स्टिक द्वारा थोड़ा अवरुद्ध है।

स्टीयरिंग व्हील के निकट ए / सी वेंट भी पूरी तरह से बंद नहीं किया जा सकता है और चालक के हाथों को बंद कर सकता है, जो ड्राइविंग करते समय सुखद नहीं है।

रिव्यूः कॉम्पैक्ट एसयूवी मार्केट में टाटा नेक्सन की अनदेखी होगी मुश्किल

नेक्सन की सुरक्षा फीचर की बात करें तो टाटा ने नए नेक्सन के सभी रूपों को दो एयरबैग के साथ सामने लाया है, जिसमें मानक के रूप में इलेक्ट्रॉनिक ब्रेकफोर्स वितरण के साथ एंटी-लॉक ब्रेक भी शामिल हैं। इसके अलावा रियर-व्यू मिरर और एक इममोबिलाइजर के अंदर एक दिन / रात मौजूद हैं।

टाटा नेक्सन का इंजन और परफार्मेंस

टाटा नेक्सन का इंजन और परफार्मेंस

अब जबकि नेक्सन के डिजाइन की सभी सुर्खियों सामने आ चुकी हैं। टाटा मोटर्स ने अपने नये एसयूवी के बोनट के तहत दो नए इंजनों को गिरा दिया है। यह 6-स्पीड मैनुअल गियरबॉक्स से लैस है।

दोनों इंजनों में तीन ड्राइविंग मोड इकोनामिक्स, सिटी और स्पोर्ट की सुविधा है। इसमें इन तीनों के बीच बेहतरीन संतुलन पैदा किया जा सकता है।

रिव्यूः कॉम्पैक्ट एसयूवी मार्केट में टाटा नेक्सन की अनदेखी होगी मुश्किल

इसका 1.2 लीटर पेट्रोल इंजन टियागो और टागोर में पाया जाने वाला इंजन का डेवलपमेंट संस्करण है। कम्पनी ने इसे तीन सिलेंडर इंजन को टर्बोचार्ज किया है और यह 108.5 बीएचपी @ 5,000 आरपीएम और 170 एनएम टोकेल @ 1,750 - 4,000 आरपीएम की किक करता है।

रिव्यूः कॉम्पैक्ट एसयूवी मार्केट में टाटा नेक्सन की अनदेखी होगी मुश्किल

दूसरी तरफ डीजल इंजन में सभी नए पावरप्लांट है। यह 1.5-लीटर चार सिलेंडर टर्बोचार्ज्ड इंजन 108.5 बीएपी @ 3,750 आरपीएम और 260 एनएम टोकेल @ 1,500 - 2,750 आरपीएम का उत्पादन करता है।

डीजल इंजन कम आरपीएम से आसानी से खींचता है और बिजली वितरण रैखिक है। हालांकि, पिछले 3,500 आरपीएम में इसकी रेड-लाइन 4,500 आरपीएम की है, वहां बिजली में एक महत्वपूर्ण गिरावट आई है।

वर्डिक्ट

वर्डिक्ट

नेक्सन इसके साथ एक रेबिल और यंग डिजाइन लाया है, जो नए इंजनों के साथ जोड़ते हैं। इस कार के केबिन और बूट बेहतर है और यह ऐसे भारतीय कार खरीदारों के लिए एक सजग पैकेज है जो एसयूवी गेम में शामिल होने की तलाश में है।

रिव्यूः कॉम्पैक्ट एसयूवी मार्केट में टाटा नेक्सन की अनदेखी होगी मुश्किल

अगर टाटा अपनी आक्रामक मूल्य निर्धारण की रणनीति (कीमतों के आधार पर बेस पेट्रोल के लिए 6 लाख रुपये से शुरू होने की उम्मीद है, तो डीजल की कीमत 10 लाख रुपये पूर्व शोरूम के लिए होने की उम्मीद है), तो इसके बारे में निश्चित रुप से कहा जा सकता है कि यह टिएगो और टागोर की तरह अच्छी प्रतिक्रिया दिला सकती है।

Dennis James की राय

Dennis James की राय

टाटा नेक्सन यह सबूत है कि कोई भी अवधारणा किसी भी अवधारणा से भिन्न नहीं हो सकती है। इसे किसी भी डिजाइन में परिवर्तित करके ग्राहकों के लिहाज से शानदार पैकेज बनाया जा सकता है और कम्पनी ने इसे नेक्सन में करके दिखाया है।

रिव्यूः कॉम्पैक्ट एसयूवी मार्केट में टाटा नेक्सन की अनदेखी होगी मुश्किल

टाटा नेक्सन सबसे हटकर दिखती है और वर्तमान में भारत में बिक्री पर एसयूवी की बॉक्सी दुनिया के लिए यह बेहद राहत है। बेहतरीन डिजाइन, आकर्षित करने वाले फीचर्स, सम्मोहक सुविधाएओं और इंजन विकल्प जैसे कई कारणों से इस आक्रामक कॉम्पैक्ट एसयूवी को खरीदा जा सकता है। कॉम्पैक्ट एसयूवी मार्केट में नेक्सन को अनदेखा करना नामूमकिन है।

क्या आप जानते हैं?

क्या आप जानते हैं?

1945 में लोकोमोटिव निर्माता के रूप में टाटा मोटर्स की स्थापना की गई थी। टाटा मोटर्स ने डेमलर-बेंज एजी (अब मर्सिडीज-बेंज की मूल कंपनी ) के सहयोग से 1 9 54 में अपना पहला वाणिज्यिक वाहन निर्मित किया था। टाटा मोटर्स का पहला यात्री वाहन एक एसयूवी थी, जिसे सिएरा कहा जाता था। यह मॉडल 1999 -2000 तक उत्पादन में थी।

English summary
Tata Motors had captured the eye of the public, and the Nexon got the green-light to move forward into production. A production-spec car showed up two years later at the next expo, retaining almost all the design cues of the original concept.
Story first published: Monday, July 31, 2017, 13:12 [IST]
Please Wait while comments are loading...

Latest Photos

 

ड्राइवस्पार्क से तुंरत ऑटो अपडेट प्राप्त करें - Hindi Drivespark