अब देहरादून में भी लागू हुआ 'नो हेल्मेट, नो पेट्रोल' का , कुछ अन्य कदम भी उठाएगी सरकार

Posted by:

टू व्हीकर सेफ्टी के लिहाज से सड़क सुरक्षा एक अहम और ज़रूरी विषय है। ऐसे में दुपहिया वाहन चालकों की सुरक्षा के लिए राज्य सरकारें कई तरह की कोशिशें करती रहती हैं। इन्हीं कोशिशों में से एक है 'नो हेल्मेट, नो पेट्रोल'। इसका सीधा मतलब है कि अगर आप टू व्हीलर चला रहे हैं और आपने हेल्मेट नहीं पहन रखा है तो आपको पेट्रोल नहीं दिया जाएगा। CAR OVERVIEW : जानिए एंट्री लेवल हैचबैक डैटसन रेड-गो के सभी वैरिएंट के बारे में

यह नियम देश के कई हिस्सों में लागू हो चुका है और अब इसे देहरादून में भी लागू कर दिया गया है। उत्तराखंड ट्रांसपोर्ट डिपार्टमेंट ने 13 डिस्ट्रिक्ट मजिस्ट्रेट्स और अधिकारियों को इस बात का भरोसा दिलाने को कहा है कि उनके जिलों के हर एक पेट्रोल स्टेशन पर 'नो हेल्मेट, नो पेट्रोल' का नियम प्रभावी रूप से लागू है।

टाइम्स आॅफ इंडिया से बातचीत में एडिशनल ट्रांसपोर्ट कमिशनर सुनीता सिंह ने बताया कि वे इस नियम को सब जगह लागू कराए जाने को प्रतिबद्ध हैं और इसलिए उन्होंने ज़िलों के मुखियों को इस बाबत लेटर लिखा है।

उन्होंने यह भी कहा कि सरकार कुछ अन्य शुरुआत भी करने जा रही है जिससे कि उत्तराखंड में टू व्हीलर सेफ्टी को पहले से ज्यादा दुरुस्त किया जा सके। इसके साथ ही मोटरसाइकिल बेचने वाली दुकानों को भी हेल्मेट बेचने के लिए कहा जाएगा।

ड्राइवस्‍पार्क के ट्रेंडिंग आर्टिकल यहां पढ़ें - 

Read more on #two wheeler
English summary
Road safety is a major concern and especially two-wheeler safety. In a bid to encourage two-wheeler riders to wear a helmet, many parts of India are implementing a 'No Helmet, No Petrol' rule. The latest place to implement such a rule is Dehradun.
Please Wait while comments are loading...

Latest Photos