Facebook के संस्थापक ने किया Ford Plant का दौरा, जानिए क्यों?

Written By:

फेसबुक के संस्थापक मार्क जकरबर्ग ने हाल ही में डेट्रोइट के बाहर फोर्ड असेंबली लाइन पर अपना समय बिताया। इसके बाद उन्होंने असेंबली लाइन को लेकर कहा कि यहां पर काम करना कितना कठिन है।

दरअसल फोर्ड संयंत्र का यह दौरा "पर्सनल इयर ऑफ ट्रैवल चैलेंज" का एक हिस्सा था, ताकि वह लोगों के साथ बातचीत कर सके और सीख सके कि भविष्य में वे कैसे जी रहे हैं, काम कर रहे हैं और सोच रहे हैं।

आपको बता दें कि फोर्ड प्लांट के कर्मचारियों ने इस दौरान 32 साल के अरबपतियों को बताया कि वे डिजाइन, उत्पाद विकास और विनिर्माण क्षेत्र में नई तकनीक को कैसे बदल रहे हैं और उन्हें एकीकृत कर रहे हैं।

इस दौरान जुकरबर्ग एंटेना, cleats और ड्रिलिंग एसेबंली लाइन पर फोर्ड एफ -150 पिक-अप ट्रकों को इकट्ठा करने में समय बिताया।

इस बारे में मार्क ने अपने फेसबुक पेज पर लिखा कि मैंने एंटेना, क्लैट्स और ड्रिलिंग शिकंजे को जोड़कर कुछ नए फोर्ड एफ -150 के लाइनों को इकट्ठा करने का कार्य किया।

उन्होंने कहा कि मैंने भी एक पर निरीक्षण स्टीकर पर हस्ताक्षर भी किए हैं। ज़करबर्ग ने कहा कि असेंबली संयंत्र में लाइन पर काम करना कठिन है, और जिन लोगों से मैंने मुलाकात की थी, उनसे बात की।

उन्होंने कहा कि मैने वहां पर लगभग दसियों साल से काम रहे श्रमिकों से मिला। किसी ने मुझसे कहा था कि जब आप एक दिन में 11 घंटे खर्च करते हैं।

इस दौरे की समाप्ति फोर्ड मोटर कंपनी के कार्यकारी अध्यक्ष बिल फोर्ड के संयंत्र की एसेंबली लाइन पर होने के लिए शुक्रिया अदा किया।

English summary
Mark Zuckerberg, Facebook's founder, spent time working on a Ford assembly line outside Detroit and explained how tough it is to work on an assembly line.
Please Wait while comments are loading...

Latest Photos