Highway पर ड्राइविंग के कुछ सेफ्टी टिप्स, जो दुर्घटनाओं से आपको दिलाएंगे निजात

Written By:

रोड पर ड्राइविंग करना हर एक को पसंद है और अपनी गाड़ी की खरीददारी ही इसलिए करता है कि वह अपनी जरूरतों के हिसाब से ड्राइविंग कर सके। लेकिन जैसा कि सभी जानते हैं कि कार खरीद लेना अलग बात है और सेफ्टी ड्राइविंग करना अलग। बताने की जरूरत नहीं है कि मार्गों पर कई बार ऐसी परिस्थतियां उत्पन्न हो जाती हैं जो दुर्घटनाओं के जिम्मेदार होती है। कहने का अर्थ है कि सावधानी हटी तो दुर्घटना घटी।

हालांकि यह हमेशा नहीं होता। लेकिन अगर ऐसी सिचुएशन के पैदा होने के पहले ही हम सावधान हो जाएं तो यह सोने पर सुहागा वाली बात होगी। इसलिए आज हम आपको राजमार्गों पर चलने के दौरान कुछ सेफ्टी टिप्स बताने जा रहे हैं, जो आपके जीवन के लिहाज से बहुत उपयोगी होने वाले हैं।

गर्मियों का मौसम चल रहा है और ऐसे में हॉलीडेज की प्लानिंग कर रहे हैं तो लॉग डिस्टेंस पर जाने से पहले एक्सिटेंड केसेज से सेफ्टी के बारे में भी सोचने की आवश्यकता है। आप अगर लम्बी दूरी की यात्रा पर जा रहे हैं तो आपको बीच-बीच में पर्याप्त मात्रा में रेस्ट लेने की भी आवश्कता है। दुर्घटना से बचने का एक शानदार उपाय यह भी है। यह आपको थकान से होने वाली डिस्बैंस से बचाएगा।

रोड सेफ्टी टिप्स दूसरी सबसे बड़ी महत्वपूर्ण बात यह है कि आपकी कार गुड कंडीशन में होनी चाहिए। कहने का अर्थ है कि अगर कार में कहीं गड़बड़ी है तो आप परेशान भी हो सकते हैं। हो सकता है यह दुर्घटना का भी कारण बन जाए।

हाइवे पर ड्राइविंग के वक्त कम से कम ड्राइवर को अपना मुंह बंद रखना चाहिए। दूसरा कभी भी ड्राइवर से बात नहीं करनी चाहिए। यह कार्य चालक का ध्यान भंग करने वाला भी हो सकता है। इसलिए इसे अवाइड करें। चालक अपने मार्ग पर पूरी तरह से ध्यान रखें। इस दौरान मोबाइल फोन से भी परहेज करें।

किसी भी व्यक्ति को अपनी कार चलाने के पहले या दौरान अल्कोहाल या नशीली चीजों के सेवन से बचना चाहिए। क्योंकि आजकल ज्यादातर दुर्घटनाओं की वजह ड्राइवर के द्वारा लिया गया अल्कोहाल ही कारण बनता है। नशीली चीजों से ड्राइवर का ध्यान भी भंग होता है।

राजमार्गों पर ड्राइविंग करते वक्त आपको ओवरटेक करने से बचना चाहिए। इसके अलावा आपको अपने मार्ग या अपनी साइड से हटकर नहीं चलना चाहिए। ये छोटी छोटी बातें भी आपको दुर्घटनाओं से बचाने में मददगार होती हैं।

आपको अपनी कार को कभी भी दूसरे वाहन या कार के एकदम नजदीक से नहीं चलना चाहिए। क्योंकि यह बहुत सीरीयस मैटर बन सकता है। ड्राइव करते वक्त किसी दूसरे वाहन से पर्याप्त दूरी बनाएं रखें। यह कभी कभी रोड रेज का भी कारण बन जाता है।

आमतौर पर देखा गया है कि कुछ ड्राइवर अपने स्टीयरिंग को अपने एक हाथ से ही संभालने लगते हैं डबकि यह एक गलत आदत है। आपको ड्राइविंग के वक्त स्टीयरिंग को हमेशा दोनों हाथों से पकड़कर रखने की आवश्य़कता है। यह भी सेफ ड्राइविंग का हिस्सा है।

आपको चैनलों में कभी भी हाइ स्पीड में चलने की जरूरत नहीं है। यहां आपको हाई स्पीड में ओवरटेक करने की आदत को भी अवाइड करना चाहिए।

इसके अलावा अगर आप स्कूल अस्पताल या किसी सार्वजनिक जगहों पर ड्राइव कर रहे हैं तो वहां पर स्थानीय ट्रैफिक नियमों का पालन करें। ऐसी जगहों पर आमतौर स्पीड को धीरे रखने की बात कही जाती है। जिसे आप फॉलों कर सकते हैं।

जरूरी न हो तो आपको रात्रि में ड्राइव करने से बचना चाहिए। खासकर सुबह के 4 बजे के लगभग ड्राइविंग करना बहुत खतरनाक माना जाता है।

आपको सड़क पर चलते वक्त यातायात नियमों का भी पालन करना चाहिए। हाइवे जंक्शन के नियमों को तोड़ना नहीं चाहिए और यहां तो तेज बिल्कुल नहीं चलना चाहिए।

आपकी ड्राइविंग मौसम के अनुकुल भी होनी चाहिए। खासकर बारिश या कुहासे के बीच ड्राइविंग करना बहुत खतरनाक होता है। इसलिए अगर जरूरी न हो तो ड्राइविंग न करें और करें भी तो विशेष सावधानी बरतें।

और सबसे अंतिम और महत्वपूर्ण बात। अगर आप अपनी कार या वाहन से लम्बी दूरी की यात्रा पर गए हैं तो आपको हर दो घंटे पर आराम करना चाहिए। कुछ देर का यह आराम आपको आगे की यात्रा को आगे जारी रखने के लिए प्रिपेयर रखता है।

उम्मीद है आपको ये टिप्स पसंद आएंगे और आप सुरक्षित ड्राइविंग की ओर अग्रसर हो सकेंगे।

English summary
in this messeage you can find some simple steps to avoid the accident when traveling on highways.
Please Wait while comments are loading...

Latest Photos