टाटा नैनो और अल्‍टो 800 की तुलना: कीमत, माइलेज और विवरण

Written by: Radhika Thakur

भारत में प्रवेश स्तर की कारों के खंड में दो बड़े वाहन निर्माताओं में शक्तिशाली लड़ाई देखने को मिल रही है - मारुति सुज़ुकी तथा टाटा मोटर्स।

कई वर्षों से अल्‍टो 800 लोगों की पहली पसंद रही है तथा बहुत समय से देश की सबसे अधिक बिकने वाली कार है। टाटा ने सोचा था कि वह मोटरसाइकिल की कीमत में किफायती कार बेचकर बाज़ार पर कब्ज़ा कर लेगा।

टाटा नैनो अस्तित्व में आई। इस कार से कई लोगों के मन में यह विचार आया कि यह बहुत सस्ती कार है। क्या यह सच था? क्या होगा यदि यह केवल एक अफवाह थी जो जंगल की आग की तरह फ़ैल गयी जिसने लोगों को उस बात पर विश्वास करने एक लिए मजबूर किया जो सत्य नहीं थी।? क्या हुआ यदि टाटा नैनो पैसे की अच्छी कीमत नहीं देती परन्तु उससे अधिक कुछ देती है?

आइए प्रवेश स्तर की इन दोनों गाड़ियों के बारे में जानें तथा वास्तविक परीक्षण करें।

कीमत:

टाटा नैनो: प्रारंभिक कीमत 2.04 लाख रूपये [टाटा नैनो की ऑन रोड कीमत के लिए क्लिक करें]

मारुति सुज़ुकी अल्‍टो 800: प्रारंभिक कीमत 2.46 लाख रूपये [अल्‍टो 800 की ऑन रोड कीमत के लिए क्लिक करें]

डिज़ाइन:

टाटा नैनो की रचना कीमत कम रखने के लिए की गई है। इसमें छोटा बोनट लगा हुआ है जिसमें इंजन के स्थान पर अतिरिक्त पहिया और गैस टैंक लगा हुआ है। इसमें बूट स्पेस नहीं है जो कीमत कम करने की तरकीब है। हालाँकि इसकी ऊंचाई अच्छी है तथा लेग स्पेस भी अच्छा है।

नैनो की तुलना में अल्‍टो 800 का डिज़ाइन वेवफ्रंट है जो पारंपरिक कार की तरह दिखता है। यह पांच दरवाजों वाली कार है जिसमें बूट स्पेस भी है तथा इंजन बोनट के नीचे है। बड़ी कार होने के बावजूद अल्‍टो 800 का आंतरिक भाग बहुत तंग (कम जगह) है तथा पीछे की सीट पर बैठने वाले लोगों के लिए बहुत कम जगह है।

इंजन और विवरण:

टाटा नैनो में 624 सीसी, दो सिलेंडर वाला, लिक्विड-कूल्ड इंजन लगा हुआ है जो 37 बीएचपी पॉवर और 51 एनएम टॉर्क उत्पन्न करता है। इस इंजन में चार स्पीड वाला गियर बॉक्स लगा हुआ है। इस कार का वजन 615 किग्रा. है जबकि इसका ग्राउंड क्लियरेंस 180 एमएम है। नैनो में 12 इंच के ट्यूबलेस पहिये लगे हुए हैं।

अल्‍टो 800 में 796 सीसी, तीन सिलेंडर वाला, लिक्विड कूल्ड इंजन लगा हुआ है जो 48 बीएचपी और 69 एनएम टॉर्क उत्पन्न करता है। इस इंजन के साथ इसमें 5 स्पीड वाला मैनुअल ट्रांसमिशन लगा हुआ है। इसमें 12 इंच के ट्यूबलेस टायर लगे हुए हैं, ग्राउंड क्लियरेंस 160 एमएम का है तथा वजन 695 किग्रा. है।

माइलेज:

टाटा नैनो 25.4 केपीएल का माइलेज देती है जबकि अल्‍टो 800, 22.74 केपीएल का माइलेज देती है। माइलेज के आंकडें ऑटोमोटिव रिसर्च एसोसियेशन ऑफ इंडिया (एआरएआई) द्वारा प्रमाणित किये गए हैं।

असाधारण विशेषताएं:

विशेषताओं की बात करें तो टाटा नैनो के टॉप वेरियंट में सेन्ट्रल लॉकिंग, एयर कंडीशनिंग और औसत ईंधन खपत दूरी का मीटर, लो फ्यूल वार्निंग (ईंधन कम होने की चेतावनी), एमपी3 म्युज़िक प्लेयर, फॉग लैम्प्स, 4 स्पीकर और आगे के लिए पावर विंडो शामिल है।

अल्‍टो 800 के टॉप वेरियंट में भी यही विशेषताएं हैं, यद्यपि इसमें औसत ईंधन खपत दूरी का मीटर नहीं है। इसमें अंदर से एडजेस्ट होने वाले ओवीआरएम, 2 एमपी3 प्लेयर, चाबी रहित सेन्ट्रल लॉकिंग, 2 स्पीकर्स और सीट पॉकेट भी हैं।

सुरक्षा:

सुरक्षा की दृष्टि से अल्‍टो 800 आगे है क्योंकि टॉप वेरियंट में ड्राइवर के लिए एयरबैग लगा हुआ है जबकि नैनो में ऐसी कोई सुरक्षा सुविधा नहीं है। दोनों ही मॉडल्स में सीट बेल्ट उपलब्ध हैं परंतु दोनों में ही सीट बेल्ट की चेतावनी देने वाली लाइट्स नहीं हैं।

निर्णय:

अल्‍टो 800 की तुलना में टाटा नैनो में अधिक जगह है तथा कीमत कम होने के बाद भी इसमें कुछ अधिक विशेषताएं हैं। परन्तु अल्‍टो 800 में चीज़ें रखने के लिए बूट स्पेस उपलब्ध है तथा इसमें तीन सिलेंडर वाला इंजन है जिससे हाइवे पर यात्रा करते समय आपको अच्छी गति मिलती है। पैसे की अच्छी कीमत मिलने की बात करें तो अल्‍टो 800 अधिक अच्छी है।

Story first published: Friday, April 24, 2015, 9:48 [IST]
English summary
Compare Tata Nano vs Alto 800. A brief comparison of Tata Nano vs Alto 800 prices, mileage, features, specs and more.
Please Wait while comments are loading...
हनीमून मनाने गोवा गई तो पता चला पति नामर्द है, जानिए फिर पत्‍नी कहां पहुंच गई
हनीमून मनाने गोवा गई तो पता चला पति नामर्द है, जानिए फिर पत्‍नी कहां पहुंच गई
 ऐसे-ऐसे हॉट योगा पोज बनाती हैं ये योगिनी की देखकर दंग रह जाएंगे आप
ऐसे-ऐसे हॉट योगा पोज बनाती हैं ये योगिनी की देखकर दंग रह जाएंगे आप

Latest Photos

 
X