Test Ride Review : किलर लुक्‍स, शानदार माइलेज और चलाने में अासान है यह स्‍कूटर बाइक होंडा नवी

Posted by:

होंडा ने आॅटो एक्सपो 2016 में नवी को पेश कर हलचल मचा दी थी। इसे आउट आॅफ द बॉक्स टू व्हीलर माना जा रहा था। ऐसा क्यों है, जानिए होंडा नवी के इस राइड टेस्ट रिव्यू में। नवी ने राजदूत जीटीएस 175 की याद ताजा की है। राजदूत की यह मोटरसाइकिल 1970 में बॉबी के नाम से मशहूर थी। क्या होंडा नवी राइड करने में सुगम और भारतीय सड़कों के हिसाब से है या नहीं, इसे जानने के लिए ड्राइवस्पार्क ने किया इस स्कूटर बाइक का टेस्ट राइड। जानिए पूरा डिटेल इस रिव्यू में।

डिज़ायन

होंडा नवी को देखते ही क्रॉसओवर स्कूटर कम मोटरसाइकिल वाला लुक आता है। यह एक मिनी बाइक की तरह है जिसमें सामने बड़ी हेडलाइट दी गई है। जबकि तुलनात्मक रूप से अन्य टू व्हीलर में अमूमन इतनी बड़ी हेडलाइट देखने को नहीं मिलती है। नवी में एक छोटा और खूबसूरती से डिजायन किया गया फ्यूल टैंक है। साथ ही इसमें चौड़ी सीट भी दी गई है।
पहली नजर में देखने पर हमें लग सकता है कि होंडा नए डिजायन एलीमेंट्स के साथ नवी को बाजार में लाई है लेकिन जब आप इसे बारीकी से देखते हैं तब आपको इस बाइक की ओवरआल डिजायन का अंदाजा लगेगा। PICS : विराट कोहली की मौजूदगी में आॅडी इंडिया ने बेंगलुरू में किया रेंज ड्राइव का आयोजन

उदाहरण के तौर पर बताया जाए तो इसका पिछला हिस्सा बहुत ज्यादा प्रभावी नहीं है। होंडा ने नवी को भारी एग्जॉस्ट दिया हे जो कि ​इसे बड़ी मोटरसाइकिलों के बराबर लाकर खड़ा करती है। साथ ही इसका कार्बन फाइबर लुक इसे बाजार में मौजूद अन्य टू व्हीलर से अलग बनाता है।

इंजन, स्पेसिफिकेशन और माइलेज

होंडा नवी में 109सीसी का सिंगल सिलिंडर एयर कूल्ड इंजन दिया गया है जो​ कि होंडा ने अपनी मशहूर स्कूटी एक्टिवा  में भी दिया था। यह इंजन 7.8bhp की ताकत और 8.9Nm का टॉर्क जेनरेट करता है जो कि सीवीटी गियरबॉक्स से लैस है। नवी शहरी सड़कों पर 45 किलोमीटर प्रति लीटर तक का माइलेज देती है। इसे अगर आप 70 किलोमीटर प्रति घंटे तक की स्पीड से चलाते हैं तो यह आपके लिए काफी कम्फर्टेबल रहेगी। अब आपको लग सकता है कि राइडिंग में यह होंडा एक्टिवा की ही तरह होगी। लेकिन ऐसा नहीं है। हकीकत तो यह है कि होंडा नवी एक्टिवा के मुकाबले तुलनात्मक रूप से हल्की है और इसका इंजन वाकई चौंकाता है।

होंडा नवी का इंजन ठीक एक्टिवा की तरह काफी स्मूद और वाइब्रेशन मुक्त है। इस बाइक पर दो लोग बैठकर आसानी से राइडिंग का मजा ले सकते हैं।

राइड व हैंडलिंग

नवी में जो सबसे अच्छी बात है, वह है कि इसमें होंडा ने रेगुलर मोटरसाइकिल की तरह क्लच और गियर का सिस्टम नहीं रखा है। नवी में ये दोनों ही नहीं हैं। इस बाइक में किसी स्कूटर की तरह दोनों पहियों की ब्रेकिंग हाथों से ही कंट्रोल होते हैं।
इस बाइक की पॉवर डिलीवरी काफी स्मूद है ओर जो बात इसे स्पेशल बनाती है, वह है कि इसकी पोजीशन किसी मोटरसाइकिल की तरह है और इसका राइडिंग अनुभव किसी स्कूटर जितना हल्का। इसमें लगे टेलिस्कोपिक फ्रंट सस्पेंशन ओर सिंगल माउंटेड रियर सस्पेंशन सड़कों के गड्ढों को आसानी से झेल लेते हैं।

होंडा नवी की सीट काफी आरामदायक है। इसकी सीट पर्याप्त लंबी और चौड़ी है जो​ दो लोगों के आसानी से बैठने लायक बनी है। अगर इस स्कूटर बाइक की ओवरआल राइडिंग पोजीशन की बात करें तो इसे चलाने वाला शहर में काफी विश्वास से भरा रहता है, फिर बात चाहे हाइवे ट्रैफिक पर बाइक राइडिंग की ही क्यों न हो। इसका पिलन फुटरेस्ट काफी दूर प्लेस किया गया है जो कि चलाने वाले के लिए कुछ मुसीबत बन सकता है।

इंस्ट्रूमेंटेशन व स्टोरेज

होंडा नवी में इंस्ट्रूमेंटेशन काफी कम रखा गया है। नवी में एक बड़ा स्पीडोमीटर दिया गया है जो कि सभी वॉर्निंग लाइटों के साथ लैसह है। इसमें ट्रिप मीटर, फ्यूल गॉज, क्लॉक, साइड स्टैंड वॉर्निंग व लो फ्यूल वॉर्निंग आदि चीजें नहीं दी गई हैं। होंडा नवी के इंस्ट्रूमेंट को आसानी से पढ़ा जा सकता है। इसके फ्यूल टैप को पारंपरिक रखा गया है और इसमें 3.8 लीटर का फ्यूल टैंक दिया गया है।

इसमें पेट्रोल डलाने के​ लिए इसमें लगे लॉक होने वाले डोर को खोलना होगा। इसे खोलने पर एक कैप होगी, जिसे हटाना होगा। इसका नेक लॉक इग्निशन के साथ नहीं दिया गया है और इसे दाहिने फॉर्क पर प्लेस किया गया है, जो कि फ्यूल टैंक के ठीक नीचे लगा है। अगर स्टोरेज के नजरिए से देखें तो सीट के नीचे कम जगह है और इसमें कुछ रखने के लिए किसी स्कूटी की तरह लॉक को खोलना होता है जो कि सीट के बाएं तरफ है। यह स्पेस ​इतना है कि इसमें आप मोबाइल फोन या कुछ कागजात रख सकते हैं। इसके अलावा आप स्टोरेज बॉक्स में भी कुछ रख सकते हैं जो कि फ्यूल टैंक के ठीक नीचे लगा है। होंडा नवी के ब्रेक लीवर्स को अच्छे से डिजायन किया गया है और इनमें बेहतरीन ग्रिप है। यह बाइक चलाने वाले को आराम देती है। जबकि इसमें लगे शीशे पीछे का पूरा क्लीयर व्यू देते हैं। इसमें होंडा ने कॉम्बी ब्रेक सिस्टम यानी सीबीएस नहीं दिया है।

इसमें लगे स्विचेस भी बेसिक से दिखते हैं। बाईं स्विचगियर की फंक्शिनिंग की बाते करें तो इसमें हॉर्न, हेडलाइट आॅन या आॅफ करना, बीम लाइट को लो या हाई करना आदि फीचर्स दिए गए हैं। जबकि दाहिनी तरफ लगे स्विच से महज़ इलेक्ट्रिक स्टार्ट की फंक्शिनिंग रखी गई है। होंडा नवी में किल स्विच और हेडलाइट पास फंक्शन दिया जा सकता था जो कि इसमें मिसिंग है।

बिल्ड क्वॉलिटी

यह होंडा नवी का एक कमजोर पक्ष है। इसमें इस्तेमाल की गई प्लास्टिक का मैटीरियल जरा भी प्रभावी नहीं है। इसका फ्यूल कैप कवर भी ज्यादा प्रभावित नहीं करता है और इसका लॉक भी प्लास्टिक का ही बना हुआ है। बात अगर इसकी ओवरआल बिल्ड क्वॉलिटी की करें तो इसमें इस्तेमाल हुई प्लास्टिक इसे काफी हद तक पीछे लाकर खड़ा करती हे। लेकिन इसका यह मतलब कतई नहीं है कि इसके इंजन या राइड क्वॉलिटी में कोई कमी है। ये दोनों चीज़ ही काफी दमदार हैं।

इलेक्ट्रिकल्स

होंडा ने नवी में इलेक्ट्रिकल्स में चूक नहीं की है। यह एकदम दुरुस्त पक्ष है। फिर बात चाहे स्टार्टर की हो, हॉर्न की या फिर ​ब्लिंकर्स की..होंडा हर एंगल से परफेक्ट नजर आती है। होंडा नवी की हेडलाइट काफी बड़ी है ओर यह रात में राइडिंग के दौरान बेहतरीन विजिबिलटी में सहायक है।

प्रिंट व कलर

होंडा नवी का दिल्ली में एक्स शोरूम प्राइस रखा गया है Rs. 42,616। यह कीमत इंश्योरेंस और रोड टैक्स चुकाने के बाद आती है। अगर आप इसमें शीशे, साइड स्टैंड, नंबर प्लेट आदि एसेसरीज लगवाते हैं तो उसके लिए इस कीमत से अलग चार्ज किया जाएगा।

यह नवी के रजिस्ट्रेशन में शामिल नहीं है। होंडा नवी 5 अलग रंगो में उपलब्ध है। ये हैं पैट्रियट रेड, शास्ता व्हाइट, ब्लैक, हॉपर ग्रीन और स्पार्की आॅरेंज।

कॉम्पटीटर्स

होंडा नवी के साथ जो सबसे अच्छी बात है, वह है​ कि भारत में फिलहाल इसका कोई भी कॉम्पटीटर नहीं है और शायद आने वाले दिनों में जल्द कोई होगा भी नहीं। इसकी वजह है नवी का आउट आॅफ द कॉन्सेप्ट पर बना होना, जो कि इसकी यूनीकनेस भी है। हालांकि, बात अगर अंतर्राष्ट्रीय टू व्हीलर मार्केट की करें तो ऐसे मॉडल्स मौजूद हैं। होंडा की ही ग्रॉम इसका उदाहरण है।

पॉजिटिव पॉइंट :

  1. डिजायन
  2. कम्फर्ट
  3. स्मूद इंजन
  4. बेहतरीन ब्रेक्स
  5. माइलेज
  6. ब्राइट हेडलाइट
  7. चलाने में आसान
  8. वैल्यू फॉर मनी

निगेटिव पॉइंट :

  1. प्लास्टिक क्वॉलिटी
  2. स्टोरेज के लिए कम स्पेस
  3. पिलियन फुट पेग काफी नजदीक है
  4. इग्निशन

वर्डिक्ट

तो क्या आप यह स्कूटर बाइक खरीदने का मूड बना रहे हैं? क्या आपके लिए यह मुनासिब रहेगी या नहीं? और सबसे जरूरी क्या इसे खरीदना सही रहेगा? ऐसे तमाम सवालों का जवाब है कि होंडा नवी ओवरआल एक बेहतरीन बाइक है। इसे खरीदने में आपका नुकसान नहीं है। यह छोटी बाइक दो लोगों के लिए काफी अच्छी है और रोजाना इस्तेमाल के लिहाज से उपयुक्त है। अगर आप टू व्हीलर खरीदने को मन बना रहे हैं तो होंडा नवी एक बेहतरीन आॅप्शन है।

गो फॉर इट, इट इज़ नेवर लेट टू नैविगेट। ;)

ड्राइवस्‍पार्क के ट्रेंडिंग आर्टिकल यहां पढ़ें -

Click to compare, buy, and renew Car Insurance online

Buy InsuranceBuy Now

Read more on #होंडा
English summary
Honda launched its first-in-segment Navi at the 2016 Auto Expo, stirring and disturbing the well set two-wheeler scooter market in India. Let us know how is this scooter bike, in our test ride review.
Please Wait while comments are loading...
अनंतनाग में पकड़े गए जिंदा आतंकी का कबूलनामा, देखिए VIDEO
अनंतनाग में पकड़े गए जिंदा आतंकी का कबूलनामा, देखिए VIDEO
उर्जित पटेल ने कहा, नोटबंदी से पहले ही जमा कर लिया था नए नोटों का पर्याप्त स्टॉक
उर्जित पटेल ने कहा, नोटबंदी से पहले ही जमा कर लिया था नए नोटों का पर्याप्त स्टॉक

Latest Photos

 
X